एनवायरमेंटल इंफ़ोर्मेशन सिस्‍टम (एन्विस) नेटवर्क की स्‍थापना दिसंबर, 1982 में पर्यावरण व वन मंत्रालय (एमओईएफ), भारत सरकार के योजनागत कार्यक्रम के रूप में की गई थी। पर्यावरण व वन मंत्रालय (एमओईएफ) में एक केंद्र बिंदु के साथ पर्यावरण के व्‍यापक विषय-क्षेत्र को समेटने के लिए नेटवर्क में बड़ी संख्‍या में शाखाएं स्‍थापित की गई जिन्‍हें एन्विस सेंटर कहा जाता है।

टेरी द्वारा जुलाई 1984 से एन्विस सेंटर ऑन रिनीवल एनर्जी एंड एनवायरमेंट का संचालन किया जा रहा है। सेंटर का मुख्‍य उद्देश्‍य सूचना को एकत्र व प्रसारित करना है ताकि शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं, शैक्षिक जगत के व्‍यक्तियों व अन्‍य हितधारकों के बीच शोध, विकास व नवप्रवर्तन को सहायता व प्रोत्‍साहन दिया जा सके। फिलहाल यह सेंटर टेरी लाइब्रेरी एंड इंफ़ोर्मेशन सेंटर, नॉलेज़ मैनेजमेंट डिवीज़न में पर्यावरणीय सूचना के एकत्रण, समाकलन एवं प्रसार के लिए समर्पित केंद्र के रूप में स्थित है।

 

उद्देश्‍य

टेरी एन्विस सेंटर कई प्रयोक्‍ता केंद्रित गतिविधियों में सक्रिय रूप से संलग्‍न है।

v  डेटा के अंतरों की पहचान और इन्‍हें दूर करना

v  संसाधन निर्माण और डेटा एकत्रण

v  पूछताछ कार्य के संचालन के माध्‍यम से समस्‍या की पहचान और समाधान

v  क्षमता-निर्माण और

v  सूचना प्रसारित करने की गतिविधियां करना।

 

सेंटर ने नवीकरणीय ऊर्जा व पर्यावरणीय क्षेत्रों में डेटा के अंतरों की पहचान की है।

ये अंतर मुख्‍य रूप से निम्‍नलिखित क्षेत्रों में मौजूद हैं:

Ø  ऊर्जा का पर्यावरणीय प्रभाव,

Ø नवीकरणीय ऊर्जा व परिवहन,

Ø प्रदूषण नियंत्रण तकनीकें,  

Ø खतरनाक अपशिष्‍ट का प्रबंधन,

Ø  पर्यावरणीय कानून व विनियम,

Ø  पर्यावरणीय अर्थव्‍यवस्‍था,

Ø पर्यावरणीय नियोजन, प्रबंधन और नीतियां।

 

टेरी एन्विस का प्रयोक्‍ता ब्‍यौरा

अपनी शुरुआत से ही, टेरी एन्विस सेंटर का ध्‍यान मुख्‍य रूप से पूरे देश-भर में निर्णयकर्ताओं, नीति नियोजकों, कॉर्पोरेट व औद्योगिक घरानों, वैज्ञानिकों, शोधकर्ताओं, अध्‍यापकों और छात्रों को पर्यावरणीय सूचना उपलब्‍ध कराने पर कें‍द्रित रहा है।

   

टेरी सेंटर में, पत्रिका प्रकाशन, पूछताछ प्रतिक्रिया सेवाएं, डाक्‍यूमेंट डिलीवरी सर्विस (दस्‍तावेज़ सुपुर्दगी सेवाएं), क्षमता-निर्माण प्रयास व अन्‍य संबंधित गतिविधियों के माध्‍यम से अधिक व्‍यापक रूप से प्रसार गतिविधियां आयोजित करके इन अंतरों को दूर करने के लिए सचेतन प्रयास किये जा रहे हैं। सेंटर के पुस्‍तकालय में इसके दायरे व गतिविधियों से संबंधित विभिन्‍न पत्रिकाएं, पुस्‍तकें और सीडी मंगाई जाती हैं ताकि नवीनतम सूचना से लैस रहा जाए और मूल्‍य-संवर्धन करने वाली सेवाएं प्रदान की जा सकें। इसके अलावा, यह सेंटर टेरी के कर्मचारियों व सूचना स्रोतों को भी प्राप्‍त और उपयोग करता है। 

 

सेवाएं

सेंटर की कुछ दिलचस्‍प सेवाओं में शामिल हैं:

 

ऑनलाइन डेटाबेस

जीआईएस नक्‍शे

       

एन्विस की वर्तमान जीवंत वेबसाइट (www.terienvis.nic.in) अद्यतित सामग्री से भरपूर है और इसका नियमित रूप से रखरखाव व अद्यतन कार्य किया जाता है। इस वेबसाइट में कई खंड हैं जिनसे हाल के समाचार, सूचनाएं, तकनीकें, केस स्‍टडी, आंकड़े और डेटाबेस प्रमुखता से दर्शाए जाते हैं। सेंटर ने प्रयोक्‍ता के साथ आमने-सामने के (इंटरेक्टिव) सत्रों द्वारा उनकी आवश्‍यकताएं समझकर, प्रयोक्‍ताओं के बीच एन्विस सेंटर को लोकप्रिय बनाने के लिए वार्षिक कार्यशालाएं भी आयोजित की हैं। टेरी एन्विस सेंटर द्वारा व्‍यापक प्रसार हेतु टाइडी (टेरी इंफ़ोर्मेशन डाइजेस्‍ट ऑन एनर्जी एंड एनवायरमेंट) और ईनरी (इलेक्‍ट्रॉनिक न्‍यूज़लैटर ऑन रिनीवल एनर्जी एंड एनवायरमेंट) जैसे नियमित प्रकाशनों द्वारा प्रयोक्‍ता समुदाय को संवेदनशील बनाने का प्रयास भी किया जाता है। 

विज़ि‍टर से अनुरोध किया जाता है कि अतिरिक्‍त विकास हेतु सुझाव व टिप्पणियां यहां भेजें  

teri-env@nic.in or pkbhatta@teri.res.in.